Company Registration
Posted in: Business Ideas, कंपनी कैसे शुरू करें

बिज़नेस स्टार्ट करना है ? शुरू कहाँ से करें? एक कंपनी कैसे रजिस्टर कर सकते हैं।

दोस्तों हर किसी का सपना होता है कि हमारा खुद का बिज़नेस हो । हम किसी की नौकरी न करें । खुद का व्यवसाय हो या खुद की कंपनी हो। पर जब शुरुआत करने का समय आता है तो हम कंफ्यूज हो जाते हैं कि शुरआत करें तो कहाँ से करें । तो दोस्तों आज हम यहाँ बतायंगे कि कैसे हम एक कंपनी रजिस्टर्ड कर सकते हैं, कंपनी कितनी प्रकार कि होती हैं। और कौनसी कंपनी हमें रजिस्टर करनी चाहिए।

अपने व्यवसाय के लिए सही कंपनी चुनना उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि किसी अन्य व्यवसाय से संबंधित गतिविधि। सही व्यावसायिक संरचना आपके उद्यम को कुशलतापूर्वक संचालित करने और आपके आवश्यक व्यावसायिक लक्ष्यों को पूरा करने में सहायता देता है। भारत में, प्रत्येक व्यवसाय को अनिवार्य कानूनी compliance के हिस्से के रूप में खुद को पंजीकृत करना चाहिए। इससे पहले कि हम सीखें कि किसी कंपनी को कैसे पंजीकृत किया जाए, आइए भारत में व्यावसायिक संरचनाओं के प्रकारों को देखें और समझें।

भारत में व्यापारिक structure कितने प्रकार का होता है?

1. Proprietorship Firm

एक एकल स्वामित्व एक अपंजीकृत व्यवसाय इकाई का एक प्रकार है जो एक व्यक्ति द्वारा स्वामित्व, प्रबंधित और नियंत्रित किया जाता है। Sole proprietorship भारत में सबसे आम प्रकार का व्यवसाय है और इसका उपयोग असंगठित क्षेत्रों में सक्रिय अधिकांश सूक्ष्म और छोटे व्यवसायों द्वारा किया जाता है।

Proprietorship शुरू करना बहुत ही सरल है । इसके लिए आपको बस एक GST सर्टिफिकेट लेना होता है और आप अपना व्यापार शुरू कर सकते हैं। Sole proprietorship उन उद्यमियों के लिए आदर्श है जो पहली बार व्यापार में और कुछ ग्राहकों के साथ छोटे व्यवसायों के लिए काम कर रहे हैं।

प्राइस : 2000/- रूपये से 3000 रूपये

2. Partnership Firm

पार्टनरशिप फर्म एक व्यवसायिक संस्था है जो दो या दो से अधिक व्यक्तियों द्वारा बनाई जाती है,। पार्टनरशिप फर्म छोटे उद्यमों के लिए बहुत अच्छा विकल्प है जिसमें दो या दो से अधिक व्यक्ति व्यवसाय में योगदान करने और लाभ या हानि साझा करने का निर्णय लेते हैं। भारत में, पार्टनरशिप फर्म सबसे अधिक प्रचलित प्रकार की व्यावसायिक इकाई है जिसमें लोगों का एक समूह शामिल होता है।

प्राइस : 4000 रूपये से 6000 रूपये

3. One Person Company(OPC)

One Person Company(OPC) को हाल ही में वर्ष 2013 में पेश किया गया, एक ओपीसी एक कंपनी शुरू करने का सबसे अच्छा तरीका है अगर वहां केवल एक प्रमोटर या मालिक मौजूद है। यह एक एकल-मालिक को अपने काम को करने में सक्षम बनाता है और अभी भी कॉर्पोरेट ढांचे का हिस्सा है।

प्राइस : 6000 रूपये से 8000 रुपये

4. Limited Liability Partnership (LLP)

एक अलग कानूनी इकाई, एलएलपी में भागीदारों की देयता केवल उनके सहमत योगदान तक ही सीमित होती है।

प्राइस : 6000 रूपये से 8000 रुपये

5. Private Limited Company

कानून की नजर में एक कंपनी को उसके संस्थापकों से अलग लीगल Entity  के रूप में माना जाता है, इसमें Shareholders और Director होते हैं। प्रत्येक व्यक्ति को कंपनी का कर्मचारी माना जाता है।

प्राइस : 7000 रुपये से 8000 रूपये

6. Public Limited Company

पब्लिक लिमिटेड कंपनी, जैसे नाम से ही पता चलता है कि इसमें पब्लिक को भी शामिल किया जाता है। इसमें आम लोग भी शेयर खरीद कर कंपनी में भागीदार हो सकते हैं । इसका एक अलग कानूनी अस्तित्व है और इसके सदस्यों की देनदारी उनके द्वारा रखे गए शेयरों तक ही सीमित है।

आप चुन सकते हैं कि आपके व्यवसाय की आवश्यकताओं के अनुसार कौन सी व्यावसायिक संरचना उपयुक्त है और तदनुसार अपना व्यवसाय पंजीकृत करें।

प्राइस : 30000 रूपये से 35000 रूपये

अगर आप भी अपना कोई बिज़नेस स्टार्ट करना चाहते हैं और उसके लिए कंपनी रजिस्टर करना चाहते हैं तो आप नीचे दिए गये फॉर्म से कांटेक्ट कर सकते हैं ।

हम आपके लिए खूब प्रेरक कहानियां और बिज़नेस आइडियाज लाते हैं अगर आप कोई इम्प्रूवमेंट के लिए सुझाव देना चाहते तो प्लीज आप कमेंट करके सुझाव दे सकते हैं अगर आपको स्टोरी और बिज़नेस आइडियाज पसंद आते हैं तो आशा है कि आप कमेंट और शेयर करेंगे।

Online Delivery Partner in Greater Noida

175 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *